Bounce Rate Kya He or Ise Kaise Kam Kare in Hindi

Bounce Rate क्या है और इसमें कम करे?

यदि आपका भी कोई blog या website है तो आपको google analytic के बारे में ज़रूर पता होना चाहिए जिससे आप गूगल analytic की एक फ्री सर्विस का उपयोग करके आप अपने website पर आने वाली traffic के बारे में जान सकते है यदि आपको ये पता करना है की कौन से article पर ज्यादा traffic आ रही है तो गूगल analytic की मदद से आप वो भी पता कर सकते है गूगल analytic की मदद से आप ये भी पता कर सकते है की कौन से कंट्री से आपके website पर ज्यादा traffic आ रही है और कौन सी कंपनी से ज्यादा page view मिल रहा है गूगल analytic की मदद से आप ये भी पता कर सकते है की आपकी website का bounce रेट कितना है।

Bounce rate क्या है- जब कोई यूज़र या विजिटर आपकी वेबसाइट पर आता है और फिर ओपन करता है कुछ समय के लिए पड़ता और जल्दी चला जाता है या फिर पड़ता है और काफी देर उसमें बना रहता है तो उस समय को बाउंस रेट कहा जाता है बाउंस रेट सिर्फ विजिटर पर निर्भर करता है कि वह कितनी देर तक ब्लॉग पर रहा और कितनापेज पड़ा और कितने पेज पर क्लिक किया है इन्हीं सब समय मैं जो समय लगता है उसे बाउंस रेट कहा जाता है

webSite के बाउंस रेट बढ़ने के कारण-

1.WordPress Speed- इसमें आपको यह देखना है कि Site कितने समय में open हो रही है और Site Open होने में ज्यादा समय तो नहीं लग रहा है यदि website की लोडिंग स्पीड कम रहती है तो आने वाले visitor कुछ देर तक तो इंतजार करेंगे लेकिन कुछ दिनों बाद में आपकी वेबसाइट में website आना कम कर देते हैं और दूसरी website पर चले जाते है तो यदि आपकी website की लोडिंग स्पीड कम है तो आप आपके website का bounce rate भी बढ़ती जाएगी ।

2.Copy Paste Content- यदि आप ब्लॉगर है तो आप कभी भी कॉन्टेंट को कॉपी पेस्ट ना करें वरना इससे आपके विजिटर की संख्या कम हो जाएगी और यदि आपने अपने article को अच्छे से नही लिखा है तो आने वाला visitor आपके site जल्दी जल्दी आ कर चले जाते है जिसकी वजह से आपके website का bounce rate बढ़ जाता है आपको हमेशा यह कोशिश करनी होगी कि आप यूनिक कांटेक्ट को लिखने का प्रयास करें इससे आपकी वेबसाइट विजिटर की संख्या बढ़ जाएगी ।

3.Wordpress की डिजाईन – भाव से वेट कम होने का मुख्य कारण यह है कि website की डिजाईन का अच्छा न होना यदि आपकी website का डिजाईन अच्छा नही है तो आपके website पर आने वाली traffic ज्यादा देर तक नही रुकेगी और धीरे धीरे कम हो जाएगी और आपका ट्राफिक नहीं बढ़ पाएगा ।

4.लम्बे समय तक Update ना होना –आपकी वेबसाइट काफी समय से अपडेट ना होना भी बाउंस रेट को बढ़ावा देने का मुख्य            कारण है

5.Writing Skill अच्छी नहीं होना ।

 

WordPress के बाउंस रेट कम करने के उपाय-

1.अपने site के डिजाईन को और आकर्षक बनाये- आपके website के डिजाईन की वजह से भी आपके website का bounce rate ज्यादा हो जाता है यदि आपके website की अच्छी डिजाईन है तो ये visitor को आपके वेबसाइट की तरफ attract करती है और इससे आपके website की bounce rate भी कम होने लगती है ।

2.Wordpress की loading time को कम करे- यदि आपके website की लोडिंग time बहुत ज्यादा है तो website की लोडिंग स्पीड कम रहती है तो आने वाले visitor कुछ देर तक तो इंतजार करेंगे लेकिन कुछ दिनों बाद में आपकी वेबसाइट में website आना कम कर देते हैं तो इसी लिए यदि आपके website की लोडिंग time बहुत ज्यादा है तो अपने site की लोडिंग time को कम करे ।

3 अपनी WordPress के आर्टिकल को लिंक करें- यदि आप article लिखते हैं तो अपने पुराने article को भी साथ में लिंग करें यदि आप अपने article को लिंक करते है तो जब visitor नए article को पढ़ते हैं तो साथ के साथ तो साथ के साथ पुराने article को होने की वजह से पढ़ लेते हैं इससे आपके website का bounce rate की कम हो जायेगा और आपके और लिखे हुए article पर भी धीरे- धीरे traffic बढ़ने लगती है|

4.कीवर्ड का प्रयोग- यदि आप कीवर्ड रिसर्च टूल्स का उपयोग करके अपने टॉपिक से संबन्धित कीवर्ड्स सर्च करते हैं तो कीवर्ड को आप अपने वेबसाइट के आर्टिकल मैं आकर्षित करते हैं इससे भी बाउंस रेट कम होता है।

5.मोबाइल फ्रेंडली साइट- आपको यह कोशिश करना चाहिए कि आप अपनी वेबसाइट के लिए अपनी साइट को मोबाइल फ्रेंडली बनाना चाहिए जिससे आपके विजिटर आपकी वेबसाइट को मोबाइल मैं भी पढ़ सकें।

6. लम्बे आर्टिकल्स- आपको अपने आर्टिकल को न्यूनतम 300 शब्दों से अधिक की जानकारी देनी चाहिए जिससे पाठक को पढ़ने में समय लगे और बाउंस रेट कम हो सके।

admin Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *